अहा जिंदगी!!! [Wow Life!!!!]

Life is full of OOHs, AAHs, WOWs, and HMMs. Every minute in life is a lesson to learn. This personal site is collection of such experiences.

Category

All from Mind

This is a broad category, containing most of the articles on this site.

माँगने से मुहब्ब्त नही मिलती, फरियाद करने से दुआ नही मिलती. याद करें क्यों उनको हम. जिनसे हमारी तकदीर नही बनती.

तुम्हारे लबों की लाली , तुम्हारे गालों की सुर्खियां, तुम्हारे आँखों की नमी, तुम्हारे अश्कों की गर्माहट, तुम्हारी आवाज की लरज, कुछ भी तो नहीं बदला, बदला है तो सिर्फ… मेरे देखने का अंदाज़।।

सुखे दरख्त की गुमनाम छाँव सा। मेरी मुहब्बत का निशाँ बाकी आज भी है।। पुरानी किताब के पीले पन्नो सा। उसकी यादों का रंग मेरे वजूद पर आज भी है॥ बारिश से धुले कागज पर स्याही के निशाँ सा। उसका… Continue Reading →

गुनाहगार को इनाम, रिहाई से न दो। मेरी बेवफाई का सिला, प्यार से न दो।।

बेवफा नहीं था, बेबस था। बेहोश नहीं था, दीवाना था।।

सब का साथ सबका विकास

मोदी जी सारी योजना बंद कर दो। सिफ॔ सांसद भवन जैसी कैंटीन हर दस किलोमीटर पर खुलवा दो। 29 रूपये र्मे भर पेट खाना मिलेगा। सारे लफडे ख़त्म। 80% लोगो को घर चलाने का लफडा खतम। ना सिलेंडर लाना ना… Continue Reading →

मेरे आगोश में सिमट सी जाती है। नम पलकों से कुछ कह सी जाती है।। हौले हौले गीत जुदाई के गुनगुनाती है। हर रात मेरी तन्हाई दुल्हन सी सज जाती है।

दूरियां इतनी तो नहीं कि तुम्हे भूल जाऊँ। गम इतने तो नहीं कि हँसना भूल जाऊँ।। अब नज़रे उठती नहीं तेरे कूचे से गुजरते हुए। बेवफा इतना तो नहीं कि किसी और से प्यार कर पाऊँ।।

भूल जाऊँ तुझे कैसे। जिंदगी के हर लम्हे में तेरी याद जो है।। याद न कर पाऊं तुझे कैसे। साँसों के हर कतरे में तेरा नाम जो है।। सफर अधूरा छोड़ जाऊं कैसे। मंजिल न सही, रास्ते का सहारा तू… Continue Reading →

वो उठती-गिरती पलकें तेरी, इनकी भाषा पढ़ न पाएं हम। प्रेम की मौन स्वीकृति तेरी, इसको समझ न पाएं हम।।

ये पहली बारिश, और मिट्टी की सोंधी खुशबु।। जैसे हमारा पहला मिलन, और तेरे गजरे की मादक खुशबु।।

नज़रों से पिला दे साकी तो होश आ जाए। दीदार-ए-यार क्या हुआ, होश खो बैठे हम।।

© 2018 अहा जिंदगी!!! [Wow Life!!!!] — Powered by WordPress

Theme by Anders NorenUp ↑